SupportMeYaar.Com

Popular Posts

Read This Amazing Posts

Trending

Recent PostAll the recent news you need to know
View All

जिसने सुबह उठकर देखी अपनी हथेली, अब से उसकी बदल जायेगी किस्मत

दुनिया का हर इंसान कामयाबी पाना चाहता है लेकिन कुछ लोगों को इसे पाने की लालसा बहुत जल्दी होती है और वे कुछ भी करने के लिए उत्सुक हो जाते हैं...

क्या आप जानते हैं यह 7 चीजों को माना जाता है अपशगुन, बिगड़ सकते हैं बनते काम!

बचपन से ही हम अपने बुजुर्गों से यह सुनते आ रहे हैं कि ऐसा मत करो अपशगुन होता है… वैसा मत करो अपशगुन होता है। अपशगुन के नाम पर हमने ना जाने क...

यदि आप वास्तु के हिसाब से घर में लगाएं पर्दे, मिलेगी परेशानियों से मुक्ति

वास्तुशास्त्र में घर में लगे भी हमारी परेशानियों का हल कर सकते हैं। वास्तुशास्त्र में बताया गया है कि हमें अपने घरों में दिशा के हिसाब से पर...

अपने घर में न रखें भगवान की ऐसी मूर्तियां नहीं मिलेगा पूजा का फल

घर में भगवान की मूर्ति रखने से और उनकी पूजा करने से सकारात्मक उर्जा आती है। वहीं कई बार हम घर में कुछ ऐसी मूर्तिया रख देते है जिससे आपको पूज...

यदि आप भी चट मंगनी पट ब्याह चाहते हैं तो करें यह उपाय

बृहस्पति भगवान को देवताओं का गुरु माना जाता है। ऐसी मान्यता है कि बृहस्पति देव की पूजा करने से शादी में आ रही सभी अड़चनें दूर हो जाएंगी। लेक...

यदि आपको भी घर में घुसकर बिल्ली देती है यह संकेत, तो अवश्य दें ध्यान

हमारे यहाँ लोगों के बीच कई तरह की मान्यताएं प्रचलित हैं ओर सभी अपनी अपनी मान्यता को सच मानते हैं। ऐसे में आप सभी भी किसी ना किसी मान्यता को ...

यदि आपको भी सपने में मिलते है ये संकेत तो आप बनने वाले है धनवान

अक्सर नींद में सपने तो हर कोई सपने देखता है। ये एक स्वाभाविक प्रक्रिया होती है। लेकिन हमारे ज्योतिषशास्त्र में बताया गया है सपने हमारे आने व...

सभी महिलाओं को इस दिन नहीं खरीदना चाहिए सुहाग का सामान, रिश्तों पर पड़ता है असर

हमारे यहां सभी काम शुभ दिन और समय देखकर किये जाते है। इससे काम के सफलता पूर्वक होने के चांस बढ़ जाते है। ज्योतिष में मंगलवार के दिन कुछ कामों...

Nirjala Ekadashi 2021 : आज है निर्जला एकादशी है, अभी जानिए शुभ मुहूर्त, नियम और महत्व

आज निर्जला एकादशी (Nirjala Ekadashi) है. हिंदू पंचांग के अनुसार निर्जला एकादशी का व्रत ज्येष्ठ मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि को रखते हैं....

सिकंदर-ए-आज़म से लेकर अंग्रेज़ों तक, सबका गुरूर मिटटी में मिल गया : ख़ैबर दर्रा

बचपन से हम बहुत सी जादू की कहानियां सुनते आये हैं, जिनमे कुछ ऐसी जगहों के क़िस्से होते हैं, जहां से एक कदम आगे जाने वाला या तो मर जाता है या...

Entertainment