Internet Ka Malik Kaun Hai ? Who Owns The Internet


आज हम बात करेंगे की इन्टरनेट का मालिक कौन है. आज के ज़माने में हर कम डिजिटल रूप से होता है,  आज के टाइम में एसा कोई काम नहीं है जिसमे इन्टरनेट की जरुरत नहीं पड़ती, आपके पास भी कंप्यूटर  होगा या स्मार्टफ़ोन होगा, क्या आपको लगता है की आप इन्टरनेट के बिना रह सकते है क्यों की हम ज्यादातर काम इन्टरनेट से ही करते है, जैसे की पैसा ट्रान्सफर करना,रिचार्ज करना, टिकट बुक करना ते सब काम हम इन्टरनेट से ही करते है तो क्या आप ही बोलिए की आप इन्टरनेट के बिना अक पल भी रह सकते है, बोलिए बोलिए मुझे जवाब दीजिये.

कभी आपके मन में एसा विचार आया है की हम जो इन्टरनेट यूज़ कर रहे है उसका मालिक कौन है, क्या आपने कभी भी एसा सोचा?
तो चलिए आपके ये सवाल का जवाब भी हम दे देते है की इन्टरनेट का मालिक कौन है?

 जब आप कोई कंपनी जैसे की आईडिया,वोडाफ़ोन को डेटा पैक के लिए कुछ पैसे देते है तो आपके मन में ये सवाल तो आता ही होगा की ये सब कंपनी इन्टरनेट चलने के लिए पैसे किसे देती होगी, क्या वो खुद इटरनेट की मालिक है,

ये सब कुछ समाज ने के लिए हमें सब से पहले ये जानना होगा की इन्टरनेट क्या है?

और कैसे काम करता है और उसमे छिपा है की इन्टरनेट का मालिक कौन है.
अभी आपको में एक बात बताता हु की अभी आप जो आर्टिकल हजारो कोलोमिटर दूर रखे इस वेब साईट के सर्वर से देख रहे है और आपके मोबाइल के बिच में एक कनेक्शन बन रहा है जो है आपके सिम कार्ड की कंपनी पर ये कनेक्शन सिर्फ हमारे देश तक ही सिमित है क्यों की ये सब कंपनी इंटरनेशनल कंपनी को पैसा देती है.

तो आईये जानते है की ये कैसे काम करता है:


➊  (Sprint USA Slovakia PLDT Center Net) जिन्होंने समुद्र में Optical Fiber Cable बिछाके एक दुसरे देश को केबल के जरिये कनेक्ट किया है. ये सब कंपनी ने अलग अलग पैसा इन्वेस्ट करके ये सब केबल्स को समुद्र में बिछाके रखा है. ये सब केबल के करिए ही हम सब लोग इन्टरनेट चला पा रहे है. और ये सब कंपनिया नेशनल लेवल की छोटी छोटी कंपनियों से पैसा लेती है और सर्विस प्रोवाइड करती है.


➋  ये सब कंपनी नेशनल लेवेल्स की होती है जैसे की आपकी आईडिया, वोडाफ़ोन, रिलायंस वगेरा जो सब हमे लोकल इन्टरनेट प्रोवाइड करती है.


➌  लोकल इन्टरनेट प्रोवाइडर मतलब की wifi की कंपनिया जैसे Hathway, Airlink, वगेरा जिसमे हम हर महीने या तो सालाना पेमेंट करके हमको इंटरनेट प्रोवाइड करती है, और से सब कंपनी होती है ये नेशनल लेवल की कंपनी को मतलब की आईडिया, वोडाफ़ोन जैसी कंपनी को पैसा देती है और सर्विस प्रोवाइड कराती है.

जब हम इन्टरनेट के पैसे देते है तो वो सब डेटा पैक के लिए नेशनल कंपनी को पैसा देती है और नेशनल कंपनी इंटरनेशनल कंपनी को पैसा देती है पर इंटरनेशनल लेवल की कंपनी को किसी को पैसा देने की जरुरत नहीं पड़ती है.


ओके चलिए दोस्तों अगले पोस्ट पे हम सब साथ में होंगे तब तक के लिए अलविदा........

और हा आप समाज गए होंगे की इन्टरनेट का कोई व्यक्ति मालिक नहीं है बल्कि कंपनिया है जो हम सब को इन्टरनेट प्रोवाइड करती है.

अगर आपको ये पोस्ट पसंद आया हो तो इसे जरुर शेयर करे और लाइक और फॉलो करे.

आप हमारे facebook पेज को भी लाइक कर सकते है 


अब आप समझ गए होंगे कि internet का मालिक कोई व्यक्ति विशेष नहीं कई कंपनिया है l जो कि हम तक internet पहुँचाती है l
ऐसी ही नयी पोस्ट्स ईमेल में प्राप्त करें. It's Free
Previous
Next Post »

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी
• गलत शब्दों का प्रयोग न करे वरना आपका कमेंट पब्लिश नहीं किया जायेगा ConversionConversion EmoticonEmoticon