कुछ अजीबों – गरीब फैक्ट्स के बारे में जानिए

दुनिया में कुछ ऐसी अजीबो गरीब बाते ऐसी होती है जिसके बारे में हम कुछ बातें जानते है और कुछ नहीं पर आज में आपके लिए कुछ ऐसी ही बातें ले कर आयी हु जिसको आपको शायद ही पहले कभी सुना होगा.


मेरा ये पहला आर्टिकल है SupportMeYaar.Com पर मुझे पूरी उम्मीद है की में आप सभी को कुछ न कुछ नया सिखाती रहूंगी और कुछ अनसुना ज्ञान बाटूंगी।



अगर आपको मेरे लिखे हुए आर्टिकल पसंद आते है तो इसे सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करे ताकि दूसरे लोग भी इसके बारे में जान सके.

और एक महत्वपूर्ण बात की इस Site के Founder Mr. Ketan Danidhariya को में सच्चे दिल से Thanks बोलना चाहूंगी की उसने मुझे अपनी इस बेस्ट वेबसाइट में आर्टिकल लिखने का मौका दिया, मुझे पूरी उम्मीद है की में यहाँ पर सबसे अच्छे आर्टिकल लिखूंगी और सबका भरोसा जीतूंगी.


◽ इसे भी पढ़े : संस्कृत भाषा से जुडी कुछ महत्वपूर्ण बाते, जो आपको पता नहीं होगी! 


तो आइये जानते है कुछ अजीबो गरीब फेक्ट्स के बारे में.


हम सब जो साँस लेते है उसमे ऑक्सीजन के साथ साथ 0.0005 पर्तिशक की मात्रा में हीलियम भी होता है.

 कछुए के दांत नहीं होते है.

 अगर हम समजदारी की बात करे तो सूअर दुनिया के चौथे समजदार जिव है.

 उड़ने वाले गुब्बारे में हीलियम गैस भरी जाती है और ये गैस हवा से भी ज्यादा हलकी होती है

 24 कैरेट का सोना भी एकदम शुद्ध नहीं होता, उसमे भी कोपर मिलाया जाता है, वैसे एकदम शुद्ध सोने को आसानी से हाथ से भी मोड़ा जाता है.

 मगरमच्छ की जीभ उसके मुह के उपरी हिस्से से चिपकी हुई होती है, नहीं मगरमच्छ की जीभ हिलती है और नहीं उसको चबाने में मदद करती है, पर उससे बनने वाली लार कांच और स्टील को भी गला सकती है.

 क्या आप जानते है शतरंज का अविष्कार भारत में हुआ था.










Loading...



 आप जानते है की फिंगरप्रिंट के जैसे ही हर वक्ति के जीभ के भी प्रिंट अलग अलग होते है.

 कोकरोच अपने सर के बिना भी पुरे 9 दिनों तक जिन्दा रह सकता है.

 आप जानते है की ऊंट भी इंसानों के जैसे थूंक सकते है.

 शुतुरमुर्ग 70 किलोमीटर प्रति घंटे की तेज रफ़्तार से दोड़ सकता है.

 आप जो सांप-सीढी का खेल खेलते है उसका अविष्कार अंदाजित 13वि शताब्दी में संत ज्ञानदेव ने किया था.

0/Comments = 0 / Comments not= 0

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी

Previous Post Next Post
loading...
loading...
loading...
loading...