‘भारत रत्न’ के बारे में रोचक तथ्य ! - SupportMeYaar.Com | Top News | Ajab Gajab | LifeStyle | And Much More. . .

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

Friday, 24 March 2017

‘भारत रत्न’ के बारे में रोचक तथ्य !




आज हम बात करेंगे देश के सबसे बड़े सम्मान Bharat Ratna की, आज हम आपको बताएँगे की भारत रत्न किसे दिया जाता है और क्यों दिया जाता है. और साथ ही में कुछ अमेजिंग बातें जिसको आपने कभी नही सुना होगा और नहीं कही पर पढ़ा होगा.




⚬ इसे भी पढ़े : जानिये चाणक्य के जीवन से जुडी कुछ बातें , और चाणक्य की मौत का कारण

◾ भारत रत्न से जुडी कुछ रोचक बातें.

1. भारत रत्न की शुरुआत 2 january 1954 में भारत के राष्ट्रपति राजेंद्र प्रशाद के द्वारा की गयी थी.

2. भारत रत्न देते समय नस्ल, भाषा, लिंग, क्षेत्र या जाती पर गौर नहीं किया जाता, परन्तु उसमे लिंग का भेदभाव साफ़ नजर आता है क्योकि अभी तक 45 लोगो की भारत रत्न दिया गया है और इसमें 5 ही महिलाये है.

3. 26 जनवरी को भारत के राष्ट्रपति के द्वारा यह सन्मान दिया जाता है.

4. मानवता के लिए अभूतपूर्व और अप्रत्याशित सेवा का भाव दिखया हो उसको ही भारत रत्न दिया जाता है.

5. भारत रत्न कोई और क्षेत्र के मुकाबले सबसे ज्यादा 21 नेताओ को मिल चूका है जिसमे 15 कोंग्रेस के ही नेता है और उनमे भी 3 नेहरु के परिवार के है.

6. भारत रत्न के साथ कोई भी रकम (पैसा) नहीं दिया जाता पर राष्ट्रपति के हस्ताक्षर द्वारा एक प्रमाणपत्र दिया जाता है और साथ ही में एक मैडल भी दिया जाता है जिसकी किंमत करीब 2,57,732 रूपये है.

7. पहले एसा नियम था की मृत वक्ति को भारत रत्न नहीं मिलता था पर 1955 के बाद मिलने लगा है. इसमें मरणोप्रान्त भारत रत्न लाल बहादुर शास्त्री को मिला था और अभी तक में मरने के बाद 12 लोगो को भारत रत्न मिल चूका है.

8. एक साल में ज्यादा से ज्यादा 3 वक्तियो को भारत रत्न दिया जाता है और ऐसा भी कोई संविधान नहीं है की दिया ही जाये.

⚬ इसे भी पढ़े : गरुड़ पुराण के अनुसार हमें इन 10 जगह खाने से बचना चाहिए 

9. भारत रत्न को अपने नाम के साथ पदवी के रूप में इस्तेमाल नहीं किया जा सकता.

10. सुभाष चन्द्र बोस को भी मृत्यु के बाद भारत रत्न दिया गया था और वो भी सन 1992 में पर बाद में वापिस भी ले लिया गया था.

11. किसी भी संविधान में ये नहीं लिखा है की भारत रत्न सिर्फ भारतीय को ही दिया जाए, क्यों की अब तक 2 विदेशियो को भी यह अवार्ड मिल चूका है जिसमे पहला नाम है खान अब्दुल गफ्फार को 1987 में और दूसरा दूसरा अफ्रीका के जन नेता नेल्सन मंडेला को 1990 में.

12. प्रधानमंत्री भारत रत्न के लिए राष्ट्रपति के पास सिफारिश भेजता है पर इसमें ऐसा भी हुआ है प्रधानमंत्री ने खुद को ही भारत रत्ना दे दिया हो, क्योकि जवाहरलाल ने इंदिरा को पद पर बने हुए यह अवार्ड दिया था.

13. 1977 में जनता पार्टी की सरकार ने भारत रत्न देना बांध कर दिया था परन्तु 1980 में कोंग्रेस ने वापिस चालू किया.

◾ भारत रत्न को क्या क्या सुविधाए मिलती है.

जीवन भर Income Tax नहीं भरना पड़ता.

संसद की बैठकों में और सत्र में भाग लेने की अनुमति है.

आजीवन पुरे भारत में एयर इंडिया की क्षेणी की मुफ्त यात्रा और रेलवे में भी प्रथम क्षेणी में मुफ्त यात्रा दी जाती है.
कैबिनेट रेंक के बराबर का दर्जा दिया जाता है.

VIP के जितना दर्जा दिया जाता है.

अगर जरुरत पड़ती है तो z-grade की भी सुरक्षा दी जाती है
.
विदेश यात्रा के दौरान भारतीय दूतावास उनको हर संभव सुविधा प्रदान करता है.

भारत भर में किसी भी यात्रा के दरमियान राज्य सरकार उन्हें स्टेट गेस्ट की सुविधा भी देती है.


⚬ इसे भी पढ़े :

⚬ जवां चेहरे के लिए रखे इन बातों का घ्यान.. 
⚬ ‘इसरो’ से जुड़े कुछ अनसुने रोचक तथ्य ! जो आप नहीं जानते। 
⚬ संगीत के बारे में कुछ  रोचक तथ्य !
⚬ कुछ अजीबों – गरीब फैक्ट्स के बारे में जानिए 
⚬ क्या आप जानते है वर्ल्ड की दूसरी सबसे लम्बी दीवार भारत में है ? 


दोस्तों कैसा लगा आपको हमारा ये आर्टिकल? अगर अच्छा लगे तो इसे शेयर जरूर करे.

नोट: ये आर्टिकल आपको कैसा लगा हमें जरूर बताये क्योंकि आपके एक कमेंट से हमें प्रेरणा मिलती है और भी अच्छा लिखने की.... तो प्लीज कमेंट जरुर करे और अपना सुजाव दे. 

अगर आपके पास भी कोई हिंदी में लिखा हुआ प्रेरणादायक, कहानी, कविता, सुझाव, या फिर कोई भी ऐसा लेख जिसको पढ़कर पढने वाले को किसी भी प्रकार का मार्गदर्शन या फायदा होता है तो आप उसे हमारे साथ शेयर करना चाहते है तो अपनी फोटो और नाम के साथ हमें ईमेल करे. हमारी Email ID है  hindimekahe@gmail.com पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ हमारी वेबसाइट पर पब्लिश करेंगे.



No comments:

Post a Comment

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी
• गलत शब्दों का प्रयोग न करे वरना आपका कमेंट पब्लिश नहीं किया जायेगा