भूतों के बारे में हैरान करदेने वाली कुछ बातें. - SupportMeYaar.com

Trending Now

Post Top Ad

Monday, 15 January 2018

भूतों के बारे में हैरान करदेने वाली कुछ बातें.

जिसने भूतो को नहीं देखा है वो भूतो को देखना चाहते है और जिसने देखा है और खोफनाक सच से सामना किया है वो भूतो की बातो के नाम से भी घबराते है. इस संसार में भूतो को लेकर कई सारी कहानिया प्रचलित है, भूतो से जुडी कुछ घटनाओ को किसी ने बया किया है तो कोई बया कर नहीं सकते है. भूतो से लेकर हर एक धर्मो में उनकी अलग मान्यताये है.


आज हम आपके सामने कुछ ऐसी बातें लेके आये है जिसको आपने पहले कभी नहीं सुनी होंगी.

भूतों के बारे में हैरान करदेने वाली कुछ बातें

आज तक आपने जो भी भूतो की कहानिया सुनी होंगी उसमे सिर्फ आपको रात के समय का ही जिक्र मिलता होगा. पर क्या आप को पता है की रात के समय में ही ऐसा क्या है की जिसमे भूत अपनी उपस्थिति दर्ज कराते है. ऐसा माना जाता है की रात के समय इलेक्ट्रोनिक व्यवधान कम रहता है इसी कारण से वे अपनी ज्यादा शक्ति दर्ज कर पाते है, साथ ही में इसी के कारण इनका सभी चीजो पर नियंत्रण बढ़ जाता है. इसीलिए यही वजह है की भूतो की एकांत और रात में होने की सम्भावना ज्यादा होती है.

अगर वैज्ञानिकों की बात माने तो भूतो से बात करने का सबसे अच्छा तरीका है आवाज. भूत हमें तरह तरह की आवाजे निकाल कर हमसे बात करते है. सिर्फ ऐसा ही नहीं है कोई भी चीज को यहाँ वहा करके अपनी बाते हम तक पहुचाते है. और कभी कभी ऐसा होता है की कोई ऐसी चीजो को हमारे सामने लाके रख देते है जिनमे उनकी रूचि या फिर उनका उससे कोई संबंध हो.

सबसे ज्यादा भूत हमारे देश भारत में दिखाई देते है ऐसा आप सोच रहे है तो ये बात आपके लिए एकदम गलत है क्यों की एक रिचर्स के मुताबिक भूत चीन के ऑफिस वर्कस को ज्यादा दिखाई देते है. और इनमे से 90% लोगो का ऐसा मानना है की भूत होते है, और कई लोगो का ऐसा मानना है की उन्होंने भूतो को देखा है और महसूस भी किया है.

माना जाता है की भूत भी बोर होते है और जब भी वे बोर हो जाते है तो वो आपको परेशान करने लगते है. अधिकतर उनको आपको डराना नहीं है पर आपके साथ मजे लेना है. पर ये बात अलग है की वे अच्छे अच्छे लोगो के पसीने छुड़ा देता है.

ऐसा माना जाता है की भूत सिर्फ कुछ विशेष लोगो को ही दिखाई देते है. लोगो का ऐसा मानना है की जिन लोगो का गन कमजोर होता है भूत सिर्फ उन्हें ही दिखाई देते है. बड़े बुजुर्गो का मानना है की भूत जब भी होता है तो उसकी सबसे पहली मोजुदगी का पता जानवरों को हो जाता है. अगर किसी का गण अगर मजबूत है तो उसको अनुभव एकदम कम होता है या कहे तो नहीं के बराबर होता है. बच्चो और जानवरों को भूत सबसे ज्यादा दिखाई देते है.


अगर कोई बुरी आत्मा हो तो उसको भटकती आत्मा भी कहा जाता है, क्या आपको पता है की भूतो का भी अपना समूह होता है, इसके अंदर बड़े, छोटे ताकतवर कई तरह के भूत शामिल होते है. अक्सर ऐसा माना गया है की भूतो को ताकत बुरी आत्माओ से मिलती है.

कई लोगो का ऐसा भी मानना है की भूतो को हमारा ध्यान चाहिए होता है, इसका मतलब ये है की आप उनकी मौजूदगी को रियेक्ट करे. अगर भूत अंतरी कर्ट है और किसी का उनपर ध्यान नहीं जाए तो वे तरह तरह की हरकते करने लगते है. और जैसे ही हमारा ध्यान उनपर जाता है तो वो मन ही मन प्रसन्न होने का एहसास दिलाते है, पर इसमें एक बात अलग है की वे आपको डराना चाहते है या तो आपसे कुछ कहना चाहते है.


अक्सर लोगो का ऐसा मानना है की,भूत हर किसी को परेशान नहीं करते, खासकर अपने परिवार के लोगो को. भूत अपने परिवार वाले लोगो को बचने में भी काफी मदद करता है, अगर हम सड़क पे जा रहे है और कोई भयानक दुर्घटना हमारे साथ हो जाये और फिर भी हमें एक खरोच भी ना आये तो ऐसा माना जाता है की ये सब नसीब हमारे पितृओ का फल है जो हमें कुछ नहीं होने दे रहे है. और अनजान लोगो को परेशान करना उनकी आदत में होता है और वे ठीक वैसा ही करते रहते है. और लोगो को डराते है.

दोस्तों अगर आप कोलेज में पढ़े है तो आपको भूत बुलाने का एक तरीका तो पता ही होगा. जी क्या याद आया ना “प्लेटचिट” इसके अंदर गिलास पर कागज या कैरमबोर्ड जैसी चीज रखकर उनमे उलटे अक्षर रखे जाते है. और लोग इस प्रक्रिया को कई अलग-अलग तरीको से करते है. ये प्रक्रिया सूर्यास्त के बाद की जाती है, और उसमे भूतो का आह्वान किया जात है. इसके अंदर आत्मा आपसे बात करेगी की नहीं ये उनके मूड पर डिपेंड करता है, अगर कोई अच्छी आत्मा आजाये तो वो आपके हर एक सवाल का जावाब आपको दे देती है पर अगर कोई बुरी आत्मा आजाये तो आपको उसको वापिस कैसे भेजा जाये वो भी आना चाहिए, अगर उसको वापिस नहीं भेजा और “प्लेटचिट” अधुरा छोड़ कर खड़े हो जाते है तो वो आत्मा आपकी दुनिया में शामिल हो जाएगी और आपको हेरान-परेशान कर देंगी. प्लेंचीट में अंग्रेजी की वर्णमाला और 0 से लेकर 9 तक की संख्या को एक साथ लिखने का तरीका है, और इसमें साथ ही यस और नो भी लिखा जाता है. कमज़ोर दिल वाले ये प्रक्रिया बिलकुल भी ना करे.


दुनिया में हमारी पसंद और ना पसंद होती है ठीक वैसे ही भूतो की भी पसंद और ना पसंद भी होती है, भूतो को गंध बहुत पसंद होती है, और इसमें भी खास कर इत्र की. इत्र की महक उनको बहुत ही अच्छी लगती है. आपने कई सारी जगह पर सुना या महसूस करा होगा की कुछ जगह पर इत्र की महक ज्यादा आती है तो यही कहो भूतो का वास भी है. मिष्ठानों के प्रति भी उनकी रूचि ज्यादा होती है. मिठाई के भी ये दीवाने होते है.

तो दोस्तों कैसा लगा आपको हमारा ये आर्टिकल भूतो से जुडी कुछ अनजानी बातों का. अगर आपके पास भी कोई भूतो से जुडी कुछ सच्ची घटनाएँ है और दुनिया को बताना चाहते है तो उसे हमें भेज दीजिये हमारे ईमेल पर हम उसे यहाँ पर पब्लिश करेंगे.

No comments:

Post a Comment

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी
• गलत शब्दों का प्रयोग न करे वरना आपका कमेंट पब्लिश नहीं किया जायेगा