पितृदोष के लक्षण और निवारण के कुछ अचूक उपाय - SupportMeYaar.com

Trending Now

Post Top Ad

Friday, 6 October 2017

पितृदोष के लक्षण और निवारण के कुछ अचूक उपाय

आज हम आपके सामने ले कर आये है पितृ दोष के कुछ लक्षण और निवारण करने के उपाय. ज्योतिषकी माने तो सूर्य को पिता का स्थान प्राप्त है और मंगल को रक्त का. अगर हमारी कुंडली में सूर्य या मंगल दोनों में से कोई पाप प्रभाव में होते है तो पितृ दोष का निर्माण होने लगता है.
image : rudraksha-ratna
जो भी किसी व्यक्ति की कुंडली में पितृदोष होता है उसके लिए श्राद्ध का एक विशेष महत्व होता है ऐसा इसीलिए की यही एक सच्चा समय है पितृ को खुश करने का. इन 16 दिनों में पितृ दोष और उनके निवारण से हमें पितृदोष से मुक्ति मिल सकती है. अगर कीसी व्यक्ति विशेष को अगर पितृदोष होता है तो उसे कई सारी समस्या का सामना करना पड़ सकता है.
आज हम आपको यहाँ पर कुछ ऐसे लक्षण बताएँगे जिससे जातक को पता चल जायेगा की उनकी कुंडली में पितृदोष है की नहीं.
पितृ दोष के लक्षण
1. जो लोगो की कुंडली में पितृदोष होता है उसे संतान होने में समस्याएं आती है और अगर संतान पैदा हो भी जाये तो वो अधिक समय तक जीवित नहीं रहता.
2. घर-परिवार के अंदर कोई न कोई व्यक्ति को किसी से या तो अंदर ही अंदर झगड़ा होता रहता है और घर में परिवार के व्यक्ति के साथ मन-मुटाव होते रहता है.
3. पितृदोष अगर होता है तो घर में से कोई न कोई एक सदस्य हमेशा बीमार रहता है या तो उनको बीमारी से जल्दी निजात नहीं होती.
4. अगर पितृदोष हो तो लड़की के विवाह में भी परेशानियां आ जाती है या तो उनके विवाह में देरी हो जाती है, या तो उन्हें मनचाहा वर नहीं मिल पाता.
image : prabhatsanket
5. पितृदोष के कारण धन का भी आभाव रहता है या तो बार बार धन की हानि होती रहती है.
6. पितृदोष होने के कारण लम्बे सामय तक कोर्ट और कचहरी के चक्कर भी काटने पड़ सकते है.
7. जिन लोगो को पितृदोष होता है उन्हें उनकी शादी होने में भी कई प्रकार की समस्याएं आ सकती है.
8. पितृदोष वाले लोगो को अपने ही पिता के साथ अच्छा तालमेल नहीं बैठ पाता.
9. सकता है.



10. पितृदोष के जातको को आकस्मिक नुकशान होने लगता है या तो कोई दुर्घटनाओं का भी सामना करना पड़ सकता है.
11. पितृदोष वाले जातको को अपने बॉस से या तो उपरी अधिकारियों के कोप का भी सामना करना पड़ सकता है.
12. जिन लोगो को पितृदोष होता है उनमे आत्मबल की कमी होने लगती है और काफी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है.
पितृ दोष निवारण के उपाय
श्राद्ध के दिनों में करने योग्य उपाय
1. अगर कोई इंसान गरीब होता है या तो वो श्राद्ध करने में समर्थ न हो तो वो किसी पवित्र नदी के जल में काले तिल डालकर तर्पण करे, इससे पितृदोष में कमी आने लगती है.
2. अगर कोई व्यक्ति की साधारण आय हो तो वो अपने पितरो को श्राद्ध में सिर्फ एक ब्राह्मण को भी भोजन करा सकता है और भोजन सामग्री में आटा,फल,शक्कर,गुड,सब्जी और दक्षिणा दान करे, ऐसा करने से पितृदोष का प्रभाव कम हो जाता है.
image : wheresmypandit
3. किसी  विद्वान ब्राह्मण को एक मुट्ठी काले तिल दान करने मात्र से पितृ पप्रसन्न हो जाते है.



4. अगर आप एकदम ख़राब परिस्थिति से गुजर रहे हो और आप अच्छे से श्राद्ध नहीं कर सकते तो आप को सूर्यदेव को हाथ जोड़कर प्राथना करनी है की श्राद्ध के लिए जरुरी धन और साधन ना होने की वजह से मैं पितरो का श्राद्ध करने में असमर्थ हु, इसिलिये आप मेरे पितरो तक मेरा प्रेम भरा प्रणाम पंहुचा दीजिये और उन्हें तृप्त करे.
5. अगर कोई व्यक्ति को उपर बताये गये उपायों में से कारणवश कठिनाई महसूस करे तो वह सिर्फ अपने पितरो को याद करके गाय को चारा खिला दे ऐसा करने से भी पितृ अपने आप प्रसन्न हो जाते है.
कुछ अन्य उपाय
6. पीपल के वृक्ष पर दोपहर में जाए और उसपर जल,पुष्प, दूध, गंगाजल,अक्षत और काले तिल चढ़ाने चाहिए आयर अपने स्वर्गीय परिजनों का स्मरण करके उनसे आशीर्वाद प्राप्त करना चाहिए.
7. जातक को दक्षिण दिशा की दीवार पर अपने स्वर्गीय परिजनों का फोटो लगाकर उस पर हर चढ़ाना चाहिए और रोज उनकी पूजा और स्तुति करनी चाहिए. ऐसा करने से जातक को पितृदोष से मुक्ति मिलती है.
8. हररोज इष्ट देवता और कुल देवता की पूजा अर्चना करने से पितृदोष कम होने लगता है.
9. घर में शाम के समय हर रोज दीप जलाये और नाग स्तोत्र, महामृत्युंजय मंत्र, रुद्र सूक्त, पितृ स्तोत्र या नवग्रह स्तोत्र का पाठ करना चाहिए इससे भी पितृदोष की शांति होने लगती है.
10. अगर किसी की कुंडली में पितृदोष होने से किसी गरीब कन्या का विवाह या तो उसकी बीमारी में सहायता करने से भी पितृदोष शांत होता है.
11. पितृदोष को शांत करना है तो पवित्र पीपल या तो बरगद के पेड़ लगाये.
12. भगवान् विष्णु के मंत्र जाप करने ये और श्रीमद्‍भागवत गीता का पाठ करने से भी सभी पितृदोष से शांति मिलती है और  दोष में भी कमी आने लगती है.

अगर आपके पास भी कोई हिंदी में लिखा हुआ प्रेरणादायक, कहानी, कविता, सुझाव, या फिर कोई भी ऐसा लेख जिसको पढ़कर पढने वाले को किसी भी प्रकार का मार्गदर्शन या फायदा होता है तो आप उसे हमारे साथ शेयर करना चाहते है तो अपनी फोटो और नाम के साथ हमें ईमेल करे. हमारी Email ID है hindimekahe@gmail.com पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ हमारी वेबसाइट पर पब्लिश करेंगे.
liker
loading...

No comments:

Post a Comment

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी
• गलत शब्दों का प्रयोग न करे वरना आपका कमेंट पब्लिश नहीं किया जायेगा