सब जगह पर सिर्फ तिन प्प्रमुख विषय ही है क्रिकेट, राजनीति और बॉलीवुड, ये तीनो ऐसे विषय हैं जिनके बारे में हर कोई बात करता है. ज्यादातर लोगों को मानना है कि उन्हें इस विषय का पूरा नॉलेज है. पर आज हम ऐसे ही क्रिकेट के जानकारों के लिए कुछ रोचक फैक्ट्स लेकर आये हैं. इन्हें पढ़िये और बताइये कि क्या आपको ये पहले पता थे या अभी पता चला है?
Ocean of Game
Cricket की दुनिया की ग़जब बातें
साल 1949 में ऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम ने एक टेस्ट मैच की पारी में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सिर्फ 75 रन बनाए थे. खास बात ये है कि इतने कम स्कोर के बावजूद भी ऑस्ट्रेलिया का कोई भी खिलाड़ी डक यानि की शून्य पर आउट नहीं हुआ था. टेस्ट मैचों में बिना किसी खिलाड़ी के जीरो पर आउट हुए ये सबसे बड़ा टीम स्कोर है पर आप इसे नहीं जानते होंगे. इससे भी हैरान करने वाली बात ये है कि ऑस्ट्रेलिया ने ये मैच जीत भी लिया था.
क्या आप जानते है की वनडे मैच में बिना किसी खिलाड़ी के जीरो पर आउट हुए सबसे बड़ा टीम स्कोर बनाया है हमारे देश भारत ने. जो साल 2000 अक्टूबर में श्रीलंका के खिलाफ शारजाह में टीम इंडिया ने कुल 54 रन बनाए थे. अकेले रॉबिन सिंह भारत के लिए दहाई के आंकड़े तक पहुंचे थे क्या ये बात आप जानते है.
Ocean of Game

भारतीय स्पिनर भागवत चंद्रशेखर के नाम पर भी एक अनोखा रिकॉर्ड दर्ज है. इस खिलाड़ी ने रन से ज्यादा विकेट ही लिए है. चंद्रशेखर ने अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर में कुलमिला कर 58 टेस्ट खेले और 242 विकेट लिए लेकिन रन बनाए कुल 167 ही. इन 167 रनों को बनाने में वो 23 बार डक पर आउट हुए थे. न्यूजीलैंड के क्रिस मार्टिन के नाम 233 विकेट और 123 रन का रिकॉर्ड हैं.
Loading...
साल 2017 के चैंपियंस ट्रॉफी सेमिफाइनल में भारत ने बांग्लादेश के खिलाफ 265 रन बनाए थे. पर इसकी खास बात ये है कि इस स्कोर में एक भी अतिरिक्त यानि EXTRA रन शामिल नहीं हुआ था. बिना अतिरिक्त रन दिए वनडे में ये सबसे बड़ा स्कोर हासिल किया है.
Hdfreewallpaper
अभी तक टेस्ट क्रिकेट में कुल 30 बार ऐसा मौका आया है की जब मैच की पहली गेंद पर विकेट गिर गया हो. पर क्या आप जानते है की वेस्ट इंडीज के गेंदबाजों ने 8 मौकों पर विरोधी टीम का विकेट मैच की पहली ही गेंद में गिरा दिया है. भारत के लिए ऐसा मौका सिर्फ 1 बार ही आया है.
क्या आपको पता है पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ऐलन बॉर्डर 100 वनडे मैच खेलने वाले पहले ऐसे खिलाड़ी बने. बॉर्डर ने जनवरी 1985 में ये इतिहास रचा था. वो 200 वनडे खेलने वाले भी पहले ही खिलाड़ी थे. मोहम्मद अजरुद्दीन 300 वनडे खेलने वाले पहले खिलाड़ी थे और जयसूर्या 400 वनडे में शामिल होने वाले पहले खिलाड़ी. सचिन तेंदुलकर के नाम कुल 463 वनडे मैच शामिल हैं.