क्या आप जानते है पहले मुर्गी आई या अंडा ? जाने सही जवाब - SupportMeYaar.com

Trending Now

Post Top Ad

Tuesday, 7 November 2017

क्या आप जानते है पहले मुर्गी आई या अंडा ? जाने सही जवाब

आप में से किसी ना किसी से तो ये सवाल जरूर किया ही होगा कि पहले मुर्गी आई या पहले अंडा आया? बाद में सामने वाले ने अपना तेज़ दिमाग भी चलाया होगा और खूब मेहनत करने के बाद भी इस सवाल का जवाब नहीं दिया होगा आपको. पर अभी कोई बात नहीं आज हम आपको बता रहे है पहले मुर्गी आई या फिर पहले अंडा आया. इस सवाल का यहा पर जवाब जानकार आप हर किसी को इस सवाल का जवाब दे सकते हैं. पर अब आपको ज्यादा परेशान होने की जरुरत नहीं है क्योकि इस सवाल का एकदम सही जवाब खुद वैज्ञानिकों ने ढूढ़ निकाला है. तो आइए आगे जानते हैं इसके बारे में…

Copyright Holder
पहले मुर्गी आई या अंडा?
सवाल था पहले मुर्गी आई या अंडा? इस सवाल से आप और हम न जाने कितने सालों से जूझ रहे हैं, पर इसका जवाब नहीं ढूंढ पाए, पर अब शेफील्ड और वारविक यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने इस सवाल का एकदम सही तोड़ ढूंढ लिया है.

pexels
सबसे पहले मुर्गी आई
यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने इस सवाल पर दावा किया है कि सबसे पहले मुर्गी आई थी. एक रिसर्च के मुताबिक वैज्ञानिकों का कहना है कि, धरती पर पहले मुर्गी का ही जन्म हुआ था.
बाद में आया अंडा
अगर वैज्ञानिकों की माने तो उनके मुताबिक, मुर्गी के जन्म के बाद ओवोक्लाइडिन 17 नामक के प्रोटीन से अंडे के खोल का निर्माण हुआ था. इस प्रोटीन के बिना अंडे का निर्माण होना बेहद ही मुश्किल है. ओवोक्लाइडिन-17 या OC-17 नामक इस प्रोटीन सिर्फ मुर्गी के गर्भाशय में ही पाया जाता है और कही पर नहीं क्युकी इसके अलावा उसके शरीर के किसी भाग में इसका मिलना असंभव है.

pexels
वैज्ञानिकों ने इसके साबुत भी पेश किये है
एक रिसर्च के मुख्य वैज्ञानिक डॉक्टर कोलीन फ्रीमैन का मानना है कि इसे साबित करने के लिए हमारे पास एक वैज्ञानिक सबूत भी हैं. जो मुर्गियों की ओवरी से प्रोटीन पैदा होता है और उसी से अंडा बन जाता है. अंडे के खोल को टेस्ट करने पर यह बात सामने आई गयी है.
वैज्ञानिकों ने की इस बात की जांच
अब वैज्ञानिकों ने कंप्यूटर हेक्टर की मदद से अंडे के खोल की जांच की तो उन्हे पता चला की यह खोल उसी प्रोटीन से बना है जो केवल मुर्गी की ओवरी में ही पाया जाता है और कही पर नहीं.
पर मुर्गी कहां से आई? इसका जवाब अभी तक नहीं है उनके पास
मुर्गी कहां से और कैसे आई है इस सवाल का जवाब रिपोर्ट में नहीं पर भी नहीं किया है. इस संबंध में प्रोफेसर जॉन हार्डिंग का मानना है कि, यह एक रासायनिक प्रक्रिया काफी चौंकाने वाली है. क्युकी अंडे के छिलके का मुर्गी के शरीर में तैयार होना एक दुर्लभ प्रक्रिया है.
प्रकृति के पास इस विज्ञान से जुड़ी समस्याओं का है समाधान
अगर हम प्रकृति से जुडी रचना की बात करे तो जॉन हार्डिंग का यह भी कहना है कि, ‘प्रकृति के पास विज्ञान और प्रौद्योगिकी से जुड़ी सभी समस्याओं का नवीन समाधान है और हम प्रकृति से बहुत कुछ सीख सकते हैं.

No comments:

Post a Comment

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी
• गलत शब्दों का प्रयोग न करे वरना आपका कमेंट पब्लिश नहीं किया जायेगा