अपहरणकर्ताओं से बचाव के लिए अपने बच्चों को ऐसे करे सतर्क, जरुर जाने - SupportMeYaar.com

Trending Now

Post Top Ad

Thursday, 19 April 2018

अपहरणकर्ताओं से बचाव के लिए अपने बच्चों को ऐसे करे सतर्क, जरुर जाने

आज-कल फिरौती के लिए काफ़ी गंभीर अपराध होने शुरू हो गये है, ऐसा इसीलिए होता है की कुछ युवा वर्ग अपने दुर्भाग्य से रातोंरात लखपति बनने की लालसा रखते है. ऐसे में कुछ ऐसे मामले भी समाज के सामने आये है जिसमे पड़ोसी के लड़के ने ही पड़ोसी के बच्चे के अपहरण की योजना बना ली थी. ऐसे में उनको पता होता है की बच्चा कब स्कूल जाता है, कब अकेला खेलने जाता है. ऐसे में आज हम माता-पिता और स्कूलों के पदाधिकारियों को सतर्क करते हुए ये आर्टिकल लिख रहे है. इस सुरक्षा का पालन करना उन्हें बेहद ही जरुरी है.

YouTube
अगर बच्चे स्कूल जाते है तो उसे स्कूल बस से ही स्कूल भेजे, अगर ऐसा संभव नहीं है तो टैक्सी, निजी कार या रिक्शा के ड्राइवरों की विश्वसनीयता को अपने क्षेत्रीय पुलिस से जाँच कराले.


अपने बच्चों को सुरक्षा संबंधी जानकारी दे और उन्हें प्रोत्साहित करे, अगर कोई भी असामान्य घटना उनके साथ होती है तो तुरंत ही पुलिस से संपर्क करने की कोशिश करे.
अपने बच्चों को कुछ जरुरी आपातकालीन नंबरों जैसे की पुलिस का नंबर 100, घर का नंबर या स्कूल का नंबर याद करवाएं.

patrika
स्कूल के सभी अधिकारी बच्चों को स्कूल गेट पर सुरक्षित छोड़ने के लिए जाए या उन्हें सही सलामत स्कूल बस में बैठाये. या फिर ऐसा जिम्मेदार व्यक्ति या अध्यापक को नियुक्त करे जो ये काम कर सके.
स्कूल में आने वाले सभी माता-पिता का स्कूल पहचान पत्र जारी कराए.
बच्चों को स्कूल समय के दौरान कही पर भी जाने की परमिशन ना दे. अगर बच्चो के घर से कोई संदेश आये की बच्चों को घर ले जाना है तो ऐसा होने पर तुरंत ही उनके घर के नंबर पर कांटेक्ट करे और बात की अच्छे से पुष्टि करे.

News18
सभी बच्चों को निर्धारित समय पर ही बस स्टॉप कर भेजना चाहिए और हो सके तो बच्चों को उनके समूह में ही भेजना चाहिए.

अगर बच्चों को कोई भी ऐसे वाहनों पर शंका हो तो उन पर नजर रखनी चाहिए और उसका नंबर भी नोट करके रखना चाहिए.

No comments:

Post a Comment

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी
• गलत शब्दों का प्रयोग न करे वरना आपका कमेंट पब्लिश नहीं किया जायेगा