लोग इसे पहाड़ो में रहने वाला दानव समझते थे, सच्चाई आई सामने - SupportMeYaar.com

Trending Now

Post Top Ad

Friday, 19 January 2018

लोग इसे पहाड़ो में रहने वाला दानव समझते थे, सच्चाई आई सामने

जैसे की हम जानते है जो लोग पर्वतीय क्षेत्रो में रहते है वो अक्सर हिममानव के नाम से भी डर जाते है, ज्यादातर लोगो को ऐसे हिममानव देखने की घटनाएँ सामने आती रहती है, कुछ लोगो का ऐसा भी दावा है की उन्होंने हिममानव के फिंगरप्रिंट भी देखे है.

इस बात को कुछ लोग सच मानते है तो कुछ जूठ, पर अगर वैज्ञानिको की माने तो हिममानव जैसा कोई होता ही नहीं है .

वैज्ञानिको का कहना है की ये हिममानव जैसे दिखने वाले जिव भालू होते है. ये सभी भालू अलग-अलग प्रकार के होते है इसमें हिमालयन ब्राउन में से एक है जो स्टडी में पाया गया है की वैज्ञानिको ने यूनिवर्सिटी ऑफ बफैलो कॉलेज ऑफ आर्टस एंड साइंस के प्रोफेसर कार्लोट लिंक्लिस्ट के अनुसार, जो हिममानव यानि की येती के बारे में बताया जा रहा है वो उसकी हड्डिया, स्किन, दांत जैसी दिखने वाली चीजो के जेनेटिक प्रमाणों के अनुसार इसके भालू होने का पता चला है.

इस स्टडी में दुनिया भर के म्यूजियम से और प्राइवेट कलेक्शन में से रखे गये येती की जाँच हुई थी. इसमें कुछ वैज्ञानिको का कहना है की हिमालय की ऊंचाई पर रहने वाले भालू समय के साथ ही बदलते जाते है और ऊँचे इलाके में रहने के कारण उसको खाना तलाश करने में काफ़ी लंबी दुरी तय करती पड़ती है.

यही कारण है की वे चार पैरो के बजाये दो पैरो पर खड़े हो कर चलते है, भालू के दो पैरो पर चलने के कारण लोग इस भालू को हिममानव के नाम से जानने लगते है. प्रोफेसर कार्लोट लिंक्लिस्ट का कहना है की इन्होने जो स्टडी की है वो एकदम सही है और यह स्टडी एशियाई भालू के विकास और उनके इतिहास की जानकारी हासिल करने में काफी मदद करती है.

No comments:

Post a Comment

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी
• गलत शब्दों का प्रयोग न करे वरना आपका कमेंट पब्लिश नहीं किया जायेगा