उज्जैन के महाकालेश्वर ज्योतिलिंग से जुड़ी रोचक जानकारी, जरुर पढ़े - SupportMeYaar.com

Trending Now

Post Top Ad

Sunday, 14 January 2018

उज्जैन के महाकालेश्वर ज्योतिलिंग से जुड़ी रोचक जानकारी, जरुर पढ़े

उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर भस्म आरती के दर्शन और प्रसाद चढाने के नियम बदल गये है, आज हम उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर के बारे में कुछ रोचक बातें बताने वाले है जिसको आपने पहले कभि भी नहीं जाना होंगा.
उज्जैन के महाकालेश्वर ज्योतिलिंग से जुड़ी रोचक जानकारी
भगवान शिव के सभी 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग मध्य प्रदेश के उज्जैन में स्थित है.
क्या आप जानते है ज्योतिर्लिंग का मुख दक्षिण दिशा में होने की वजह से इसे दक्षिणामूर्ति के नाम से भी जाना जाता है.
महाकालेश्वर मंदिर 5 तलों में बना हुआ है जिसमे से एक तल मंदिर के निचे है.
क्या आप जानते है महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग के तल के उपर ओमकारेश्वर और उससे भी उपर नागचंद्रेश्वर मंदिर है.
क्या आप जानते है हर साल महाशिवरात्रि के दिन यहाँ पर बहुत बड़ा मेला लगता है जिसकी रौनक पूरी रात बनी रहती है.
क्या आपको पता है नाग-पंचमी के दिन महाकालेश्वर ज्योतिलिंग में एक ही दिन में करीब 2 लाख से भी ज्यादा श्रद्धालुओं मौजूद होते है.
कुछ ऐसी भी मान्यताए है की महाकालेश्वर ज्योतिलिंग में नागचंद्रेश्वर मंदिर के दर्शन मात्रा से ही सभी रोगों से मुक्ति मिल जाती है.
लोक-कहानियों के अनुसार नाग-पंचमी के दिन यहाँ पर नागराज तक्षक स्वयं मौजूद होते है.

क्या आप जानते है महाकालेश्वर ज्योतिलिंग के शिवलिंग का आकार बाकि सभी ज्योतिलिंगो के आकार से बड़ा है.
महाकालेश्वर ज्योतिलिंग उज्जैन स्थित जहा पर मुग़ल शासक इल्तुतमिश ने आक्रमण के दौरान लूटपाट करने के उदेश्य से नस्ट कर दिया था.
ये बात तो आप जानते ही होंगे की स्वतंत्रता के बाद इस ज्योतिलिंग की देखभाल करने की सारी जिम्मेदारी देव स्थान ट्रस्ट से उज्जैन की नगर निगम संस्था के पास चली गयी है.
क्या आप जानते है महाकालेश्वर मंदिर के तीसरे तल में स्थित नागचंद्रेश्वर मंदिर साल में सिर्फ एक बार और वो भी नाग पंचमी के दिन ही खुलता है.
महाकालेश्वर ज्योतिलिंग से लगा एक छोटा जलस्त्रोत है जिसको तिर्थकोट के नाम से जाना जाता है.
क्या आप जानते है महाकालेश्वर ज्योतिलिंग के 118 शिखरों के ऊपर करीब 16 किलो के स्वर्ण की परत चढ़ाई गयी है.

No comments:

Post a Comment

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी
• गलत शब्दों का प्रयोग न करे वरना आपका कमेंट पब्लिश नहीं किया जायेगा