मोदी सरकार का ऐतिहासिक फैसला, रेप करने वालों की रूह कांप जाएगी

जैसे की हम सब जानते है की उन्नाव और कठुआ रेप जैसी घटना से पूरा देश दुखी है, हाला की इन सब मामलो में वीआईपी लोगो के नाम भी समने आने से आम लोगो को और भी बड़ा झटका लगा है. अगर देखा जाये तो देश के रक्षक ही भक्षक बन जाये तो देश की रक्षा कौन करेंगा.

जल्द ही मोदी सरकार एक बेहद ही सख्त कानून लाने वाली है जिसके तहत 12 साल की बच्ची से घिनौनी हरकत करने वाले को फांसी की सजा सुनादी गयी है.

भारत देश की केंद्रीय एवं बाल विकास मंत्री मेनका गाँधी का कहना है की उनकी कोशिश है की प्रोटेक्शन ऑफ चिल्ड्रन फ्रॉम सेक्सुअल ऑफेंस (पॉक्सो) एक्ट में संशोधन करने का प्रस्ताव तैयार कर रहा है. जिसमे सिर्फ 12 साल से भी कम उम्र की नाबालिक के साथ दुष्कर्म करने वालों को सीधे मौत की सजा ही दी जाएगी.

मेनका जी का कहना है की ये सजा कड़ी मजबूत और प्रतिरोधक के तौर पर काम करेगी और ये अभी तक का सबसे ऐतिहासिक फैलसा है. इस सजा को सुनाने के बाद ऐसी कोई भी घटना नहीं घटेगी. वैसे आपकी जानकारी के लिए बतादे की पास्को एक्ट में अधिकतम उम्र कैद की सजा ही सुनाई जाती है पर कठुआ केस के बाद इस एक्ट में भी सरकार ने कई बदलाव किये है.

0/Comments = 0 / Comments not= 0

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी

Previous Post Next Post
loading...
loading...
loading...
loading...