पुरे 5000 सालों से भटक रहा है अश्वत्थामा - SupportMeYaar.com

Trending Now

Post Top Ad

Wednesday, 25 July 2018

पुरे 5000 सालों से भटक रहा है अश्वत्थामा

रोजाना ऐसी ही जानकारी के लिए हमें फ़ॉलो जरुर करें
दोस्तों हमारे देश में कई सारी ऐसी जगहे है जहा पर अश्वत्थामा को देखने का दावा किया जा रहा है क्यूंकि अश्वत्थामा इस धरती पर पुरे 5000 सालों से भटक रहा है.

Third party image reference
आज हम बात कर रहे है मध्य प्रदेश के बुरहानपुर स्थित असीरगढ़ किले के बारे में जहा पर खुदाई में सुरंगनुमा इमारत के साक्ष्य मिले और इस के बारे में पुरातत्व विभाग का मानना है की यह वही जेल है जहा पर साल 1857 के क्रांतिकारियों को गुप्त रूप से बंदी बनाकर रखा गया था और बाद में उन्हें फांसी दे दी गयी थी.

Third party image reference
पुरातत्व विभाग ने इसके बारे में भटिंडा से आए शहीदों के परिजनों ने नक्शे सहित पुरातत्व विभाग को इसकी जानकारी थी. अभी यहाँ पर खुदाई रोक दी गयी है. अब लोगो का ऐसा मानना है की अश्वत्थामा इस धरती पर ऐसी जगह पर रहते है और अपना जीवन व्यतीत करते है.

Third party image reference
असीरगढ़ का किला जो की बुरहानपुर के किनारे ऊंची पहाड़ी पर आया हुआ है, लोगो का यही मानना है की पुरे लगभग पांच हजार वर्षों से अश्वत्थामा इसी जगह पर भटक रहे है. इस किले में एक शिवमंदिर आया हुआ है जिसमे अश्वत्थामा हररोज पूजा करते है. क्यूंकि यहाँ पर हररोज सुबह ताजा फूल और गुलाल चढ़ा हुआ मिलता है और यह अपने आप में ही एक रहस्य बना हुआ है.

Third party image reference
पौराणिक कथाओं के मुताबिक अपने पिता द्रोणाचार्य की मृत्यु का बदला लेने के लिए अश्वत्थामा ने अभिमन्यु के पुत्र परीक्षित को मारने के लिए ब्रह्मास्त्र का प्रयोग कर दिया था. तभी भगवान श्री कृष्ण ने परीक्षित की रक्षा की थी और अश्वत्थामा को सजा देने के लिए उनके माथे से वो चमत्कारिक मणि निकाल ली थी.

Third party image reference
बाद में श्री कृष्ण ने अश्वत्थामा को युगों-युगों पृथ्वी पर ही भटकने का श्राप दे दिया था, इसीलिए अश्वत्थामा को इस धरती पर कई जगह उसकी मौजूदगी होने का दावा किया गया है. कुछ इतिहासकारों का कहना है की अश्वत्थामा का असली ठिकाना असीरगढ़ किला ही है.
रोजाना ऐसी ही जानकारी के लिए हमें फ़ॉलो जरुर करें.

No comments:

Post a Comment

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी
• गलत शब्दों का प्रयोग न करे वरना आपका कमेंट पब्लिश नहीं किया जायेगा