कही आपकी कुंडली में भी कालसर्प दोष तो नहीं, ऐसे पता करें

हमारी कुंडली में सभी गृह राहु-केतु के मध्य में आते है जब ऐसा हमारे साथ होता है तो इसको कालसर्प योग के नाम से जाना जाता है, जिन लोगो की कुंडली में ये योग बनता है उसके जीवन में काफी ज्यादा उतार-चढ़ाव और परेशानियां आती रहती है.

Third party image reference
हमारे ज्योतिष शास्त्र में इस योग को सबसे ज्यादा अशुभ माना जाता है. अब इसके कुछ प्रभाव की बात करे तो यह एक ऐसा दोष है जिससे पीडित जातक कठिन मेहनत करने के बाद भी उचित फल नहीं प्राप्त कर सकता और अपने जीवन काल में हमेशा धन का अभाव ही होते रहता है.

Third party image reference
यदि किसी व्यक्ति की कुंडली में कालसर्प दोष है तो वो अपने संतान पक्ष की और से भी काफी ज्यादा कष्ट भोगते रहता है और उसके जीवन में शारीरिक और मानसिक रुप से कमजोर होने लगता है जिसकी वजह से उसके उत्साह में कमी आ जाती है और उसके जीवन में सदा निराशा बनी रहती है.

Third party image reference
जिस किसी भी व्यक्ति के जीवन में यह दोष लग जाता है उसका पूरा जीवन अस्त-व्यस्त हो जाता है और अपने दाम्पत्य जीवन में यानि की पतिओ और पत्नी दोनों के बिच में हमेशा कलह रहने लगती है.

Third party image reference
अब इस दोष के संकेत के बारे में बात करे तो किसी व्यक्ति को बेहद ही बुरे सपने आते है जिसमे सांप को देखना, मृत्यु को देखना या फिर अपने आसपास किसी साये का आभास होना इस बात का संकेत दिलाता है की उस व्यक्ति को कालसर्प दोष लग गया है.
रोजाना ऐसी ही जानकारी के लिए हमें फ़ॉलो जरुर करें.

0/Comments = 0 / Comments not= 0

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी

Previous Post Next Post
loading...
loading...
loading...
loading...