गणेशजी से जुडी रहस्यमई और दिलचस्प बातें, सभी गणेश भक्त जरुर पढ़े - SupportMeYaar.com

Trending Now

Post Top Ad

Tuesday, 29 October 2019

गणेशजी से जुडी रहस्यमई और दिलचस्प बातें, सभी गणेश भक्त जरुर पढ़े

भगवान शिव और पार्वती के पुत्र बताये जाने वाले गणेश वास्तव में प्रकृति की शक्तियों के एक विराट और विशाल रूपक है, इनके लिए असंख्य मिथक है, यह देखने में थोड़े अजीब है पर फिर भी इनमें बेहद ही गहरे अर्थ छिपे हुए है. तो चलिए जानते है गणेश जी के बारे में कुछ रोचक बातें.

Third party image reference
गणेश जी का मस्तक हाथी का है, चूहा उनका वाहन है और नंदी उनका मित्र है, वैसे देखा जाए तो मोर और सांप उनके परिवार के सदस्य है. पर्वत उनका आवास स्थल है साथ ही में वन क्रीडा और आकाश तले भी उनका निवास स्थल है पर छत नाम की कोई भी चीज नहीं है.


Third party image reference
ऐसा माना जाता है की माता पार्वती ने अपने शरीर के मैल से एक छोटी आकृति बनाई और उसको गंगा नदी में नहला दिया, जैसे ही गंगा जी का स्पर्श हुआ तो उस आकृति में जान आ गयी और वह आकृति विशाल हो गयी, माता पार्वती ने उनको अपना पुत्र बताया तो सभी देवताओं ने उनको गांगेय कहकर संबोधित किया.

Third party image reference
वैसे गणेश यानि की गणपति सभी गणों के अधिपति है इसीलिए उनको जल का भी अधिपति माना जाता है, गणेश जी के चार हाथ है जिसमे एक हाथ में सौंदर्य का प्रतीक कमल है, दुसरे हाथ में जल का प्रतीक शंख है, तीसरे हाथ में संगीत की प्रतीक वीणा है और चौथे हाथ में शक्ति का प्रतीक परशु या त्रिशूल है.

Third party image reference
वैसे गणेश जी छंद शास्त्र के आठों गणों के अधिष्ठाता देवता बताये गये है क्यूंकि इसके पीछे का एक कारण है की प्रकृति में हर तरफ बहुतायत से उपलब्ध हरी-भरी दूब गणेश को अधिक प्रिय है इसीलिए इक्कीस दूबों की मौली उन्हें अर्पित न की जाए उनकी पूजा अधूरी मानी जाती है.

Third party image reference
वैसे आपको एक बेहद ही महत्व की बात बता देते है की भजन और कीर्तन करने का कोई अर्थ नहीं है क्यूंकि गणेश जी हमारे भीतर है और प्रकृति, पर्यावरण को उनका सन्मान और संरक्षण देकर ही हम अपने भीतर के गणेशजी को पा सकते है.
यदि आप हमारी बात से सहमत है तो हमें जरुर बताये और आप भी गणेश जी के बहुत बड़े भक्त है तो प्यार से लिखे जय गणेश.
रोजाना ऐसी ही जानकारी के लिए हमें फ़ॉलो जरुर करें.

No comments:

Post a Comment

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी
• गलत शब्दों का प्रयोग न करे वरना आपका कमेंट पब्लिश नहीं किया जायेगा