यह है भारत के पहले ‘गे’ राजकुमार, पत्नी के सामने खुला था राज - SupportMeYaar.com

Trending Now

Post Top Ad

Friday, 3 May 2019

यह है भारत के पहले ‘गे’ राजकुमार, पत्नी के सामने खुला था राज

क्या आप जानते है की सुप्रीम कोर्ट की संवैधानिक पीठ ने दो वयस्कों के बीच सहमति से बनाए गए समलैंगिक संबंधों को अपराध मानने वाली धारा 377 से बाहर कर दिया है और आपको बतादें की अब हमारे देश भारत में भी दो वयस्कों के बीच समलैंगिक संबंध अपराध नहीं माना जायेगा.

Third party image reference
अब जब बात समलैंगिकता की कर रहे है तो गुजरात के राजकुमार मानवेंद्र सिंह को जरुर याद किया जाता है, इसीलिए आज हम आपको यहाँ पर उनके बारे में थोडा बहुत बताने वाले है जिसके बारे में आपने आज तक नहीं जाना होंगा, तो चलिए जानते है क्या थी उनकी कहानी.

Third party image reference
आपको बतादें की गुजरात के एक राजघराने में राजकुमार मानवेंद्र सिंह का जन्म हुआ, उनके महलों में नौकर-चाकर आदि होने के बावजूद भी वो अपनी जिंदगी को आसानी से नहीं बिता पा रहे थे.

Third party image reference
वो एक लौते ऐसे शाही परिवार के शख्स थे जिनको सार्वजनिक तौर पर अपने 'गे' होने की बात स्वीकार की थी और बाद में उनके परिवार वालों ने उनका त्याग कर दिया था और परिजनों ने उन पर परिवार की बदनामी करने का आरोप लगाया.

Third party image reference
मानवेंद्र को कई सालों तक अपनी सेक्सुअलिटी छिपाकर रखने को मजबूर होना पड़ा था, जब साल 1991 में मध्य प्रदेश के झाबुआ की राजकुमारी से उनकी शादी करा दी गयी तो वो शादी सिर्फ एक झूठ की जिंदगी बन गयी थी.

Third party image reference
अब वो अपने भीतर यह राज बिलकुल भी छुपाकर नहीं रखना चाहते थे इसीलिए उन्होंने अपनी पत्नी को अपने सेक्सुअल ओरिएंटेशन के बारे में सब कुछ सच-सच बता दिया. बाद में शादी के सिर्फ 1 साल के बाद ही उनकी पत्नी ने उनसे तलाक के लिए अर्जी दे दी, जब की उस वक्त तलाक देना बहुत ही असामान्य बात थी.

Third party image reference
अब इसमें उनके लिए एक अच्छी बात यह थी की उनकी पत्नी ने उनसे वादा किया कि वह उनकी सेक्सुअलिटी के बारे में किसी को नहीं बताएंगी, पर सच छिपाना इतना आसान नहीं था क्यूंकि साल 2002 में प्रिंस मानवेंद्र को नर्वस ब्रेकडाउन हुआ और उनको हॉस्पिटल ले जाया गया वहा पर सायकायट्रिस्ट ने उनके पैरेंट्स को बताया कि वह गे हैं.

Third party image reference
बाद में उनके पैरेंट्स ने दबाव डाला कि उनकी सेक्सुअलिटी को छिपाकर ही रखा जाए, बाद में प्रिंस की मेडिकल और धार्मिक दोनों ही तरीकों से उनका 'इलाज' कराया. पर अब जो होने वाला था उसके बारे में किसी ने भी सोचा नहीं था क्यूंकि प्रिंस ने सार्वजनिक तौर पर अपने गे होने की बात स्वीकार कर ली.

Third party image reference
बाद में उनके परिवार वालों ने सार्वजनिक तौर पर अपने बेटे को जायदाद से बेदखल कर दिया और सभी तरह के संबंध तोड़ने का ऐलान भी कर दिया.
तो यह थी प्रिंस मानवेंद्र सिंह की कहानी जिसके बारे में आपने शायद ही पहले कभी जाना होंगा.
रोजाना ऐसी ही जानकारी के लिए हमें फ़ॉलो जरुर करें.

No comments:

Post a Comment

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी
• गलत शब्दों का प्रयोग न करे वरना आपका कमेंट पब्लिश नहीं किया जायेगा