आपको भी फ़ेक मैमोरी कार्ड ख़रीदने से बचना है तो इसे जरुर पढ़े

आज कल सभी लोग अपने स्मार्टफोन में मेमोरी कार्ड का इस्तेमाल करते है क्यूंकि बेहद ही ज्यादा डाटा का इस्तेमाल करके उनके फ़ोन की स्टोरेज फुल हो जाती है इसीलिए वो अपने स्मार्टफोन की स्टोरेज को बचाने के लिए माइक्रो एसडी कार्ड का इस्तेमाल करते है.

पर काफी ज्यादा लोग बाज़ार से एसडी कार्ड ले तो लेते हैं पर वास्तविकता की यह जानकारी काफी लोगो को नहीं होती है इसीलिए आज हम आपको बताएँगे की असली एसडी कार्ड की पहचान कैसे करे और नकली एसडी कार्ड के इस्तेमाल से होने वाले नुकसान क्या होते है.
नकली डाटा कार्ड से होने वाले नुकसान

Third party image reference
सबसे पहली तो बात यह है की नकली एसडी कार्ड में आपको पर्याप्त स्टोरेज नहीं मिलती और इससे अपने स्मार्टफोन का डाटा डिलीट होने की भी संभावना ज्यादा बढ़ जाती है. ये फ़ोन के प्रोसेसिंग पॉवर भी कम कर देती है इसीलिए आप सही से माइक्रो एसडी कार्ड का चुनाव करें.

Third party image reference
आप को हमेशा माइक्रो एसडी कार्ड को ही खरीदना चाहिए, यदि कोई भी दुकानदार आपको डाउनलोडिंग के साथ या कम पैसे का लालच देकर खुला डाटा कार्ड थमा दे तो ऐसा कार्ड बिलकुल भी ना ले, वैसे देखा जाए तो 50 प्रतिशत डाटा कार्ड खुले ही बेचे जाते हैं.

Third party image reference
यदि आपको असली मैमोरी कार्ड का पता करना है तो मैमोरी कार्ड पर आपको ब्रांड का नाम सही तरीके से प्रिंट में लिखा हुआ दिखाई देगा और नकली कार्ड में कंपनी का नाम फैले हुए प्रिंट में मिलेगा इससे आप आसानी से समज सकते है की यह असली है या नकली.
असली मैमोरी कार्ड में आपको जितना भी स्टोरेज उसके कवर पर लिखा दिखाई देता है उतनी ही क्षमता आपको उसके अंदर देखने को मिलेगी और ज्यादातर सभी असली मैमोरी कार्ड आपको ब्लेंक यानि खाली ही मिलेगा.
यह बात सबसे जरुरी और खास है की असली मैमोरी कार्ड लेने पर दुकानदार आपसे प्रिंटेड कीमत का ही पैसा लेगा, कम में नहीं देगा.
तो आप ऐसे पता लगा सकते है की आपने ख़रीदा हुआ मैमोरी कार्ड असली है या नकली.
रोजाना ऐसी ही जानकारी के लिए हमें फ़ॉलो जरुर करें.
Previous article
Next article

Leave Comments

Post a comment

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी

loading...
loading...
loading...