सामने आई, चंद्रयान 2 के बारे में ऐसी जानकारी जो आपको पता तक नहीं होगी

आज हम आपको चंद्रयान 2 के बारे में कुछ ऐसा बताने वाले है जिसके बारे में आपने आज तक नहीं जाना होगा, क्यूंकि यह जानकारी आप हम आपको देने वाले है जिसके बारे में आज तक किसी को भी पता नहीं है.
वैसे देखा जाये तो ज्यादातर लोग ये सोचते है कि Chandrayan 2 (या कोई भी Rocket) पृथ्वी से सीधे चाँद (या अंतरिक्ष) पर जाता है, लेकिन असल में ऐसा नहीं होता है, इसी के बारे में आज हम आपको यहाँ पर बताने वाले है और वो भी तस्वीरों के साथ, तो चलिए जानते है.
बतादें की, GSLV MK 3 (Geosynchronous Satellite Launch Vehicle Mark III) सैटलाइट को GEO ऑर्बिट में भेजता है जहां से सैटलाइट को एक पूर्वनिर्धारित रास्ते पर भेज दिया जाता है ताकि वह चंद्रमा के चारों ओर अण्डाकार कक्ष में बढ़ सके.
फिर सैटलाइट पृथ्वी के अंडाकार ऑर्बिट से निकल कर चाँद के अंडाकार ऑर्बिट में पहुँचता है और धीरे धीरे अण्डाकार कक्ष में आगे बढ़ते हुए अंत में चाँद पर पहुँचता है.
निचे हम आपको कुछ तस्वीरे दिखा रहे है जिसे देख कर आप बेहतर तरीके से समझ सकते है कि पृथ्वी से चाँद तक का रास्ता एक सैटलाइट (या Rocket) कैसे तय करता है.

news18 creative

news18 creative

news18 creative

news18 creative

news18 creative

news18 creative

news18 creative
मुझे दोस्तों मुझे उम्मीद है कि इस जवाब ने Rocket के बारे में सभी Doubt Clear कर दिया है होंगे.
रोजाना ऐसी ही जानकारी के लिए हमें फोलो जरुर करें.
Previous article
Next article

Leave Comments

Post a comment

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी
• गलत शब्दों का प्रयोग न करे वरना आपका कमेंट पब्लिश नहीं किया जायेगा

loading...
loading...
loading...