मुस्लिम लोगो को गिरगिट क्यों मार देते है - SupportMeYaar.com

Trending Now

Post Top Ad

Tuesday, 20 August 2019

मुस्लिम लोगो को गिरगिट क्यों मार देते है

दोस्तों यह बड़ा ही अटपटा सवाल है, ठीक हमारी न्यूज़ की तरह, तो आज हम आपको इस सवाल का जवाब यहाँ पर देने वाले है तो चलिए जानते है की मुस्लिम गिरगिट को देखते ही क्यों मार देते है.

Third party image reference
दोस्तों बात कुछ उस समय की है जब इब्राहिम अलैहि सलाम को आग में डाला गया था, और फिर जब आग खुदा के हुकम से धीरे धीरे ठंडी हो रही थी, तो गिरगिट उसे अपने मूह से फूँक मार कर और जला रहा था.
जब नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसलम और हज़रत सिद्दीक़े अकबर रदियल्लाहु अन्हु गार में आराम फरमा थे (हिजरत के वक़्त) तभी उस गार के बहार मकड़ी ने जाले बांध दिए और कबूतर ने अंडे दे दिए, जब काफ़िर वहा पर पहोचे तो उन्होंने जाले और अंडे देखकर यह अंदाजा लगाया की इसमें कोई गया नहीं होगा.

Third party image reference
अगर कोई अंदर जाता तो जाले तूट जाते और अंडे फुट जाते ये सोचकर काफ़िर वहा से जा रहे थे तो गिरगिट उन काफिरो को गरदन हिला कर इशारा कर रहा था की वो दो नो अंदर ही हे और तब ही गिरगिट की गरदन में अल्लाह ने अज़ाब डाल दिया की वो हमेशा अपनी गरदन हिलाता रहेगा.
रसूल्ललाह सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने गिरगिट को मारने (क़त्ल) करने का हुक्म दिया हे, और दूसरी रिवायत में हे की जो पहले वार में मार डाला उसे 100 नेकी , दूसरे वार में मारे उसे 100 से कम और तीसरे वार में मारे उसे उससे भी कम नेकी मिलेगी, ऐसा लिखा गया है.

Third party image reference
यह सभी बातें यहाँ पर लिखी गयी है - (साहिह मुस्लिम ,जिल्द 03 ,किताब :तिब्बी ,पेज 197-198 बाब 38 ,हदीस नम्बर 5803 -04-05-07 -08 -09, बुखारी शरीफ ;3359 3307, इबन ए मजा ;3228, अबु दाऊद शरीफ ;5263-5264)
अब आपको यह भी बतादू की एक बेजुबान सीधे साधे जानवर पर ऐसा गंभीर आरोप लगाकर उसकी हत्या कर देना मुझे बिल्कुल भी पसंद नहीं है फिर चाहे वो नबी का हुक्म क्यों न हो, इसका क़ुरान में कोई उल्लेख नहीं मिलता, कुछ तथाकथित धर्मगुरुओं द्वारा लिखी गईं हदीसों व धार्मिक किताबों से ऐसी अफवाह फैलाई गई और मुस्लिमों को गुमराह किया गया, अंत में कुछ अशिक्षित बेबुद्धि मुस्लिम गिरगिट मारने लगे, वर्तमान में पढ़े लिखे धर्मगुरु भी इसके बारे में कोई जागरूकता नहीं फैलाते.

अब आप लोग ही बताये, इस बारे में हमें जागरूकता फैलानी चाहिए की नहीं.

रोजाना ऐसी ही अटपटी ख़बरों के लिए हमें फ़ॉलो जरुर करें.

No comments:

Post a Comment

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी
• गलत शब्दों का प्रयोग न करे वरना आपका कमेंट पब्लिश नहीं किया जायेगा