सरकार ने पॉलीथिन पर रोक लगादी है पर पॉलीथिन बनाने वाली कंपनियों पर रोक क्यों नहीं लगायी है

दोस्तों जैसे की हम सब जानते है की हमारी सरकार ने पोलीथिन के उपयोग पर रोक लगा कर रखी है, पर अब हमारे मन में यह सवाल जरुर आता है की सरकार ने पोलीथिन पर तो रोक लगा दी है पर पोलीथिन बनाने वाली कंपनीज पर रोक क्यों नहीं लगायी है, आज हम आपको इसी के बारे में बताने वाले हैं, तो चलिए जानते है.

Third party image reference
जैसे की हम सभी को पता है की क्रूड ऑयल की रिफायनिंग से कई प्रकार के सह उत्पाद एवं केमिकल वेस्ट निकलता है, पॉली एथिलीन (पॉलीथीन) भी इसी तरह का एक केमिकल वेस्ट है, जिसको कानूनन तेल कंपनियों को इन्हें ठिकाने ( Dispose ) लगाना होता है, पॉलीथीन के इन दानो से प्लास्टिक के कैरी बेग बनते है और फिर जो बच जाता है उसे तेल कंपनियां इधर उधर समुंदर वगेरह में बहा कर डिस्पोज कर देती है, इसे डिस्पोज करने से कुछ पैसा वगेरह तो मिलता नहीं, उलटे लागत बढ़ जाती है!! तो तेल कंपनियां चाहती है कि प्लास्टिक के ये दाने बिकते रहे.

Third party image reference
सरकारें यदि कैरी बेग बनाने वाली फैक्ट्रियों को बेन कर देगी तो इन दानो की मांग घटेगी और तेल कंपनियों को घाटा होगा, बस यही वजह है.
बहरहाल, इस तरह के कई क़ानून है जिन्हें हम सिर्फ इसीलिए ढो रहे है क्योंकि इससे बहुराष्ट्रीय कंपनियों को घाटा होता है.
अब आपको उदाहरण के तौर पर भी समजा देते है, कभी टाटा को केमिकल वेस्ट के रूप में निकलने वाला अपना टनों सोडियम क्लोराइड दशको तक समंदर में बहाना पड़ता था, लेकिन जब उन्होंने आयोडाइज्ड नमक का क़ानून बनवा दिया तो यह झक सफ़ेद Mineral Less शुद्ध NaCl केमिकल आयोडीन नमक के नाम से महंगे में बिकने लगा.

Third party image reference
टाटा के पास आयोडीन की माइंसे भी थी, इस क़ानून के आने से आयोडीन की भी मांग बढ़ी और टाटा ने इधर से भी मुनाफा बनाया. यह सब 90 के दशक की बातें है, अत: ज्यादातर पाठक इस घटनाक्रम से परिचित नहीं होंगे, फिर उन्होंने खुला नमक बेचने पर प्रतिबंध लगा दिया जिसकी वजह से समुद्री नमक ( जो कि मिनरल्स का सबसे अच्छा स्त्रोत है ) का फुटकर कारोबार बंद हो गया.
तो अब आपको पता चल ही गया होगा की हमारी सरकार पॉलीथिन बनाने वाली फैक्टरियों पर रोक क्यों नहीं लगाती है.
रोजाना ऐसी ही ख़बरों के लिए हमें फोलो जरुर करें.
Previous article
Next article

Leave Comments

Post a comment

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी

loading...
loading...
loading...