जर्मनी के 10,000 कमरों वाले होटल में आज तक एक भी अतिथि क्यों नहीं आया है, जानिए

आज हम आपको यह पर एक ऐसे होटल के बारे में बताने वाले है जो जर्मनी में स्थित है और यह पर पूरे 10,000 कमरे है, तो चलिए जानते है कैसा है यह होटल।
आपको बतादे की ये होटल जर्मनी में है इसका नाम Prora है। इस होटल में 10,000 कमरे हैं जो 20,000 मेहमानों को समायोजित कर सकते हैं।

Third party image reference
यह होटल में 8 आवास खंडों में विभाजित और 4.5 किलोमीटर तक फैले हुआ है इस होटल को रेतीले समुद्र तट से लगभग 150 मीटर दूर बनाया गया था। बतादे की यह सभी कमरे समान आकार के थे, जिसमें 2 बेड और समुद्र की ओर एक दृश्य था।

Third party image reference
इस होटल का निर्माण साल 1936 में शुरू हुआ और इसमें लगभग 9,000 श्रमिक शामिल थे। लेकिन 1939 में द्वितीय विश्व युद्ध की शुरुआत के साथ, Prora पर निर्माण बंद हो गया, इसलिए सभी श्रमिकों को हिटलर के युद्ध कारखानों में काम करने के लिए स्थानांतरित कर दिया गया था।
यदि यह होटल आज भी अच्छा होता तो आज यह इस दुनिया का सबसे बड़ा और सबसे अच्छा होटल माना जाता, खेर अब इस होटल में शायद ही कोई फ़ेरबदल हो सके।
तो इसी कारण से, दुनिया के सबसे बड़ा होटल, को एक भी अतिथि नहीं मिला। यदि होटल पूरा हो गया होता, तो यह दुनिया का सबसे बड़ा अवकाश स्थल होता।

तो कैसी लगी आपको यह जानकारी, हमे कंमेंट करके जरूर बताएं।

रोजाना ऐसी ही अटपटी खबरों के लिए हमे फॉलो जरूर करें।

Previous article
Next article

Leave Comments

Post a comment

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी
• गलत शब्दों का प्रयोग न करे वरना आपका कमेंट पब्लिश नहीं किया जायेगा

loading...
loading...
loading...