क्या महाराष्ट्र के गाँव शनि शिंगणापुर में किसी घर में दरवाज़े नहीं है? जानिए पूरा सच

दोस्तो आपको सबसे पहले बतादें की जो भी लोग शिरडी जाते हैं वह शनि शिगनापुर के बारे में अवश्य जानते होंगे।
बतादें की यह जगह निश्चित रूप से शनि देव के मंदिर के लिए मशहूर है मगर इसकी एक और खासियत है। यहाँ आज भी घरों में दरवाज़े नहीं लगे। आप यह पर देख सकते है।


Third party image reference
आप देख सकते हैं की इन सभी घरों में दरवाज़े नहीं लगे। इन सभी में हैरानी की बात यह है कि यहां चोरियां भी नहीं होतीं। इसके अलावा लोगों के घर पर आलमारी इत्यादि भी नहीं होती। यह लोग कोई भी ताला इस्तेमाल नहीं करते। आपको यह सब जानकर थोड़ा अजीब जरूर लगेगा।


Third party image reference
बतादें की हमारे शास्त्रों के अनुसार शनिदेव का जन्म शनि शिगनापुर में ही हुआ था। यहाँ के लोगों का ऐसा मानना है कि गाँव की रक्षा स्वयं शनि देव करते हैं और उन्हें स्वयं रक्षा करने की कोई ज़रूरत नहीं है, इसीलिए सभी लोग यह पर ताला नही लगाते।
थोड़ा विस्तार से बताये तो इस गांव में कुछ चोरियाँ भी हुईं मगर लोगों ने गाँव वालों के दबाव में आकर कभी किसी प्रकार की शिकायत दर्ज नहीं करवाई। साथ ही आपको बतादें की साल 2011 में यूको बैंक ने शनि शिगनापुर में अपनी ब्रांच खोली थी।


Third party image reference
इस बैंक में करीब 3700 खाताधारक हैं। इस बैंक कर्मचारियों ने बताया कि कोई भी बैंक बिना सुरक्षा के नहीं चल सकता इसलिए उन्होंने दरवाज़ों में पारम्परिक ताले नहीं लगाए बल्कि 'इलेक्ट्रोमैग्नेटिक लॉक' लगाए हैं। बैंक ताला नहीं लगाने वाली प्रथा का उल्लंघन भी नही करना चाहता था और सुरक्षा भी चाहता था, इसीलिए उसने यह तरीका निकाला और आज भी ऐसा ही है यहां पर।

तो दोस्तो है ना अजब? क्या आप कभी शनि शिगनापुर गए हैं, हमे कमेंट करके जरूर बताएं।

रोजाना ऐसी ही अटपटी ख़बरों के लिए हमे फॉलो जरूर करें।

Previous article
Next article

Leave Comments

Post a comment

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी
• गलत शब्दों का प्रयोग न करे वरना आपका कमेंट पब्लिश नहीं किया जायेगा

loading...
loading...
loading...