80 साल के बुजुर्ग ने अपने हुनर से अजूबे में बदल डाला अपनी मोटरसाइकिल को

दोस्तो आपको बतादें की हुनर और प्रतिभा किसी उम्र की मोहताज नहीं होती और इस बात को साबित कर दिखाया बरेली के 80 साल के बुजुर्ग शाहिद ने।
बतादें की उन्होंने अपने हुनर और प्रतिभा से पुरानी मोटरसाइकिल को एक अजूबे में तब्दील कर दिया है । जिसे देखने के लिए लोगों की भीड़ जुट जाती है।
दोस्तो क्या आप कल्पना कर सकते हैं कि किसी मोटरसाइकिल पर एटीएम भी हो सकता है और पंखा भी हो और तो और वो मालिक की आवाज पर गाने भी सुनाये।
बतादें की मालिक की आवाज पर खुद ही स्टार्ट हो जाती है यह मोटरसाइकिल तो आईये दिखाते हैं सेंसर से चलने वाली इस अजूबा मोटरसाइकिल को।


बतादें की इसके साथ ही उनके भीतर एक शानदार मैकेनिक और इलेक्ट्रिकल इंजीिनियर का भी दिमाग है। जो काम बहुत महंगी रिसर्च और लाखों के खर्च के बाद ही संभव नहीं हो पाता वो प्रतिभाशाली मोहम्मद शाहिद ने बिना किसी शिक्षा और डिग्री के सामान्य बुद्धि से कर दिखाया।
बतादें की शाहिद ने 1987 मॉडल की सूरज मोटरसाइकिल को अपने हुनर से चलते-फिरते अजूबे में बदल तब्दील कर दिया है। इन्होंने इस मोटरसाइकिल को इस तरह बैलेंस किया है कि ये ना सिर्फ उसे हाथ छोड़ कर चला सकते है, बल्कि उस पर स्टंट भी बड़ी ही आसानी से कर लेते है।
आपकी जानकारी के लिए बतादें की मोटरसाइकिल को एटीएम मशीन में बदल दिया जो एक बार चेहरे को पहचान कर वाइस कमांड यानी आवाज से रुपये मांगने पर रुपये दे देती है।
बात करे कि दोबारा पैसा मांगने पर भी बिल्कुल सही सही रुपये सिक्के के रूप में देती है। वैसे आपको बतादें की ऐसा शाहिद ने बदलाव अपने कारोबार को बढ़ाने के लिए किया था।

तो आपको कैसी लगी यह मोटरसाइकिल, हमे कंमेंट करके जरुर बताये।

रोजना ऐसी ही अटपटी खबरों के लिए हमे फ़ॉलो जरूर करें।

0/Comments = 0 / Comments not= 0

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी

Previous Post Next Post
loading...
loading...
loading...
loading...