आपकी नौकरी सरकारी हो या प्राइवेट, सभी के लिए बड़ी खुशखबरी - SupportMeYaar.com

Trending Now

Post Top Ad

Thursday, 31 October 2019

आपकी नौकरी सरकारी हो या प्राइवेट, सभी के लिए बड़ी खुशखबरी

आपको बतादें की केंद्र सरकार ग्रेच्‍युटी पेमेंट के पात्रता नियमों में बदलाव की तैयारी में है। इस बारे में बताये तो कुसह रिपोर्ट्स के मुताबिक, ग्रेच्‍युटी पाने को जरूरी पांच साल के सर्विस पीरियड को घटाकर एक साल किया जा सकता है।

Third party image reference
बतादें की ऐसा सोशल सिक्‍योरिटी पर एक बिल के जरिए किया जाएगा। सरकार यह बिल संसद के शीतकालीन सत्र में पेश कर सकती है।
इसके लिए श्रम एवं रोजगार मंत्रालय ने 'Code on Social Security 2019' का ड्राफ्ट तैयार किया था। अब इसे मंत्रालय की वेबसाइट पर सुझावों/इनपुट्स के लिए अपलोड किया गया था। मंत्रालय को सुझाव भेजने की समयसीमा 25 अक्‍टूबर को खत्‍म हो गई,शायद आप नही जानते होंगे इसके बारे में।

Third party image reference
वैसे आपको बतादें की अभी ग्रेच्‍युटी पाने के लिए कर्मचारी को एक कंपनी में कम से कम 5 साल काम करना होता है।
अब इससे सबसे ज्‍यादा फायदा उन निजी कर्मचारियों को होगा, जो 5 साल से पहले नौकरी बदल देते हैं।
क्‍या है ग्रेच्‍युटी?

Third party image reference
आपको बतादें की ग्रेच्‍युटी दरअसल कंपनी की तरफ से कर्मचारी को उसकी सेवा के बदले आभार जताने का एक तरीका है। अभी सरकारी कर्मचारियों के लिए इसकी अधिकतम सीमा 20 लाख रुपये है। बतादें की यह पांच साल की सर्विस पूरे करने के बाद ग्रेच्‍युटी बननी शुरू हो जाती है।
अब आपको बतादें की ग्रेच्‍युटी की रकम दो बातों से तय होती है- कंपनी में आपका कार्यकाल और आपकी आखिरी सैलरी। ग्रेच्युटी तय करने का फॉर्मूला है- 15xलास्ट सैलरीxसर्विस पीरियड/26 है जिसके बारे मे आपको पता होना चाहिए।

वैसे आपको क्या लगता है इस बारे में, हमे कंमेंट करके जरूर बताएं।

रोजाना ऐसी ही अटपटी ख़बरों के लिये हमें फॉलो जरूर करें।

No comments:

Post a Comment

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी
• गलत शब्दों का प्रयोग न करे वरना आपका कमेंट पब्लिश नहीं किया जायेगा