इजराइल देश के सबसे ज्यादा रोचक तथ्य, नहीं जानते होंगे आप

आपको बतादें की साल 1947 से पहले इजरायल नाम का कोई कंट्री नहीं थी, पहले इसे फिलिस्तीन के नाम से जाना जाता था।



इसके बाद सन 1947 में यूनाइटेड नेशंस के द्वारा इजराइल का संगठन हुआ, परंतु अरब लोगों को यह बात अच्छी नहीं लगी, इसलिए उन्होंने 1947 में युद्ध कर दिया जो आज तक चलती आ रही है।

आपको बतादें की इजराइल का एक शहर जेरूसलम विश्व में बहुत ही पवित्र शहर माना जाता है और यह ईसाई यहूदी और मुसलमानों के लिए बहुत ही मुकद्दर जगह है। इसका यही कारण है पूरे विश्व में सबसे अधिक विवाद इस शहर को लेकर हुआ है, जोकि आज तक चलता आ रहा है।

मुसलमानों के लिए यह स्थान बहुत ही मुकद्दस है, क्योंकि मुसलमान मक्का से पहले जेरूसलम की तरफ घूमकर नमाज अदा करते थे।

इजराइल में मृत सागर नाम का एक सागर पाया जाता है, जहां लोग डूबते नहीं है, क्योंकि इस समुद्र में नमक की मात्रा बहुत अधिक पाई जाती है।

इजरायल विश्व का पहला ऐसा देश है, जिसने कम वजन के मॉडल का बहिष्कार किया है।

कॉलेज में पढ़ने के समय प्रत्येक इजरायल नागरिक को मिलिट्री ट्रेनिंग दी जाती है।

इजरायल विश्व का इकलौता ऐसा देश है, जहां सबसे अधिक लड़कियों को कमांडो की उच्च पोस्ट में रखा जाता है।

इस देश में महिलाएं सबसे अधिक वकील पाई जाती हैं।

न्यूजीलैंड और ब्रिटेन के बाद इसराइल एक ऐसा देश है जहां पर लिखित संविधान नहीं है।

अगर जनसंख्या के हिसाब से देखा जाए तो इजरायल इस दुनिया में दूसरे देश है, जहां सबसे अधिक किताब छापी जाती है और दुनिया में सबसे अधिक कंप्यूटर इजराइल में बनाया जाता है।


आपको बतादें की अमेरिका के सिलीकान वैली के बाद विश्व में सबसे अधिक कंपनी इजराइल में पाई जाती है. इस शहर में तकरीबन 3500 से अधिक टेक कंपनी है।

मोटोरोला का प्रथम फोन और वॉइस मेल टेक्नोलॉजी इजराइल ने ही बनाया था।

विश्व का पहला एंटीवायरस सॉफ्टवेयर इज़राइल में पाया जाता है।


0/Comments = 0 / Comments not= 0

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी

Previous Post Next Post
loading...
loading...