FmD4FRX3FmXvDZXvGZT3FRFgNBP1w326w3z1NBMhNV5=
items

क्या होता है बर्ड फ्लू, कितना है खतरनाक, ऐसे करें बचाओ।

साल में दो बार तो ज़रूर हमलोग इसका नाम सुन लेते हैं, Bird flu जिसे Avian flu के नाम से भी जाना जाता है। अपने नाम के मुताबिक ये पंछियों में पायी जाने वाली बीमारी है और पंछियों से इंसानो में भी इसका स्थान्तरण होने का खतरा रहता है। आइये इसके तथ्य के बारे में डिटेल्स से जानते हैं।



बर्ड फ्लू क्या है ? इंसानो के लिए यह कितना घातक है ?

बर्ड फ्लू, या एवियन इन्फ्लू एंजा, एक वायरल संक्रमण है जो पक्षी से पक्षी में फैलता है। जब बर्ड फ्लू मनुष्यों पर हमला करता है, तो यह घातक हो सकता है। बीमार पक्षियों के संपर्क में आने पर इंसानों में भी बर्ड फ्लू फैल सकता है।

केरल, राजस्थान, और मध्य प्रदेश में हजारों पक्षियों में बर्ड फ्लू फैलने से पूरा देश डर की गिरफ्त में है। केरल ने H5N1 वायरस की वापसी की पुष्टि की है। ताजा मामला हिमाचल प्रदेश में सामने आया है।

कब आया पहला मामला ? 

इंसानों में पहला मामला विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, H5N1 को पहली बार 1997 में मनुष्यों में खोजा गया था, बर्ड फ्लू से संक्रमित लोगों में से लगभग 60 प्रतिशत मारे गए हैं। H5N1 से दुनिया भर में 2003 से 2019 तक, WHO ने दुनिया भर में इंसानों में H5N1 के कुल 861 मामलों की पुष्टि की, जिनमें से 455 मौतें दर्ज की गई।

बर्ड फ्लू के लक्षण क्या हैं ?

संक्रमण के दो से सात दिनों के भीतर लक्षण दिखाई देने लगते हैं। लक्षणों में शामिल हैं: खांसी, बुखार, गले में खराश, मांसपेशियों में दर्द, सिरदर्द और सांस की तकलीफ। दुर्लभ मामलों में, लोग हल्के नेत्र संक्रमण (कंजक्टिवाइटिस) से भी पीड़ित होते हैं।

बचाओ के क्या उपाय किए जा रहे हैं ?

अधिकारियों ने प्रभावित क्षेत्रों के एक किमी के दायरे में बत्तरव, मुर्गियों और अन्य घरेलू पक्षियों को पकड़ने का आदेश दिया है। केंद्र ने सभी राज्य सरकारों को संदिग्ध फ्लू के लक्षणों की पहचान करने के लिए एक अलर्ट भी जारी किया है।

केरल में 48,000 पक्षी मारे जाएंगे 

केरल सरकार ने कोट्टायम और अलाप्पुझा जिलों में प्रभावित क्षेत्रों के एक किमी के भीतर 48,000 पक्षियों को मारने का आदेश दिया है। यह H5N1 वायरस के प्रसार की जांच करने के लिए किया जा रहा है।

क्या पोल्ट्री और पोल्ट्री उत्पाद खाना सुरक्षित है ?

पोल्ट्री और पोल्ट्री उत्पादों को हमेशा की तरह इस्तेमाल किया जा सकता है, वो भी बिना संक्रमण के डर के। वायरस 30 मिनट के लिए 700 C के तापमान पर नष्ट हो जाता है।

क्या एवियन फ्लू के खिलाफ कोई वैक्सीन है ?

एवियन फ्लू (Bird Flu) के खिलाफ इंसानों के लिए कोई टीका नहीं है। मानव इन्फ्लूएंजा वायरस का प्रतिरोधी टीका, एवियन फ्लू से रक्षा नहीं करता है। इससे बचने का एक ही उपाय है की इससे प्रोटेक्ट किया जाये और पंछियों के कांटेक्ट से इन दिनों दूर रहा जाये।

चेतावनी (Warning)

यदि आप ऐसे पक्षी का सामना करते हैं जो मर चुका है या मर रहा है, तो उससे संपर्क न करें, और किसी भी परिस्थिति में उसे स्पर्श न करें। इसके एवियन इत्फ्लूएंजा से संक्रमित होने की संभावना हो सकती है।

0/Post a Comment/Comments

73745675015091643

Top News

[getBlock results="9" label="Top News" type="block2"]

Recipe

[getBlock results="5" label="Recipe" type="block1"]