अटल टनल के खुलने से लाहौल घाटी में खुले एडवेंचर स्पोर्ट्स के द्वार, अब आप भी देखिये

केलांग : अटल टनल रोहतांग के खुल जाने के बाद लाहौल घाटी में शीतकालीन साहसिक खेल और गतिविधियों की अपार सम्भावनायें बढ गई हैं। घाटी में साहसिक विंटर टूरिज्म की आसार बढ गई हैं। स्नो फेस्टीवल से घाटी में शीतकालीन साहसिक खेलों की संभावनाओं को तलाशने के लिए घाटी के पर्यटन व्यवसायियों के कोशिश से साहसिक पर्यटन को उभारने के लिए एक पर्वतारोही जानकार टीम आइस क्लाइम्बिंग की संभावनाओं को तलाशने के लिए लाहौल घाटी पहुंची है और घाटी में आइस क्लाइम्बिंग की स्थान चिन्हित कर रहे हैं। साथ ही इन लोगों से आइस क्लाइम्बिंग के जरिए लाहौल में ग्रामीण पर्यटन को संजीवनी मिलेगी।




घाटी में एडवेंचर स्पोर्ट्स की अपार संभावनाएं घाटी की भौगोलिक पृ्ष्ठभूमि आइस क्लाइम्बिंग के साथ,आईस हॉकी,स्कीईंग स्लेजिंग,विंटर कैपिंग के लिए माकूल है। इससे युवाओं को रोजगार के मौका मौजूद होगें। इन दिनों लाहौल घाटी में आईस क्लाईबिंग कर रहें है उतराखंड के प्रशिक्षित युवकों का बोलना है कि अटल टनल से घाटी में साहसिक पर्यटन और ट्रेकिंग की सम्भावनायें बढ गई हैं। यहां अत्याधिक फ्रोजन वाटर फॉल बन रहे है जो कि इसके बहुत माकूल है और भविष्य में साहसिक गतिविधियों में रूचि रखने वाले पर्यटक गांवों में ठहरेंगें जिससे गॉव में पर्यटन बढेगा और युवा भी प्रेरित होगें ।

Post a Comment

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी

Previous Post Next Post