भारत में T20 वर्ल्ड कप के आयोजन पर खतरा, ICC का यह बयान बढ़ा देगा BCCI की चिंता, जाने - SupportMeYaar.Com

Popular Posts

भारत में T20 वर्ल्ड कप के आयोजन पर खतरा, ICC का यह बयान बढ़ा देगा BCCI की चिंता, जाने

Share it:
भारत में इस साल के आखिर में टी20 वर्ल्ड कप (2021 T20 World Cup) होना है. लेकिन लगातार बढ़ते कोरोना वायरस के मामलों के चलते टूर्नामेंट पर खतरा मंडराता दिख रहा है. ऐसे में अब ICC की ओर से बड़ा बयान आया है. ICC के अंतरिम मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) ज्योफ अलार्डिस (Geoff Allardice) ने बुधवार को कहा कि उनके पास इस साल अंत में भारत में होने वाले टी20 विश्व कप के लिए बैकअप योजना है. लेकिन इस समय यहां कोविड-19 मामलों में बढ़ोतरी के बावजूद देश से इसे हटाने के किसी भी विचार के बारे में नहीं सोच रहे हैं. टी20 विश्व कप का आयोजन भारत में अक्टूबर-नवंबर में किया जाएगा, लेकिन पिछले कुछ दिनों में देश में रोज एक लाख से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं. कोविड-19 मामलों के बढ़ने के बावजूद इंडियन प्रीमियर लीग दर्शकों के बिना बंद स्टेडियम में शुक्रवार से चेन्नई में शुरू होने वाली है.




अलार्डिस ने वर्चुअल मीडिया राउंड टेबल के दौरान कहा, ‘हम निश्चित रूप से टूर्नामेंट के लिये योजना के अनुसार ही आगे बढ़ रहे हैं. हमारे पास दूसरी योजना है, लेकिन हमने अभी उन योजनाओं के बारे में विचार नहीं किया है. हम भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के साथ काम कर रहे हैं. हमारे पास बैकअ योजना है जिसे जरूरत पड़ने पर ही शुरू किया जा सकता है.’ आईसीसी के क्रिकेट महाप्रबंधक अलार्डिस को हाल में मनु साहनी को ‘छुट्टी’ पर भेजने के बाद ही अंतरिम सीईओ बनाया गया था. ऑस्ट्रेलिया के 53 वर्षीय अलार्डिस अपने देश के लिये घरेलू क्रिकेट में खेल चुके हैं. उन्होंने कहा कि आईसीसी यह समझने के लिये अन्य देशों की खेल संस्थाओं से भी संपर्क में है कि वे कोविड काल में किस तरह से अपने टूर्नामेंट आयोजित कर रहे हैं.

अगर टला तो यूएई में हो सकता है वर्ल्ड कप
उन्होंने कहा, ‘इस समय क्रिकेट कई देशों में खेला जा रहा है और हम उन सभी से सीख रहे हैं. हम दूसरी खेल संस्थाओं से बात कर रहे हैं कि वे क्या कर रहे हैं, हम इस समय अच्छी स्थिति में हैं लेकिन यह भी मानते हैं कि दुनिया भर में चीजें तेजी से बदल रही हैं. दो महीने के समय में विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल का समय भी आ रहा है, लेकिन हम दोनों के लिये योजनानुसार ही चल रहे हैं.’

संयुक्त अरब अमीरात ने पिछले साल इंडियन प्रीमियर लीग की मेजबानी की थी, वह भी इस बड़े अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट के आयोजन के लिए बैकअप स्थल हो सकता है. इस बातचीत के दौरान उनसे डीआरएस (अंपायर फैसला समीक्षा प्रणाली) के बारे में भी पूछा गया जिसमें अंपायरों के फैसले विवादास्पद हो रहे हैं और जिन्हें भारतीय कप्तान विराट कोहली ने इंग्लैंड के खिलाफ सीमित ओवर की सीरीज के दौरान भ्रामक बताया था.

डीआरएस पर आईसीसी बोर्ड में हुई बातचीत
अलार्डिस ने कहा कि हाल में हुई आईसीसी की बोर्ड बैठक के दौरान डीआरएस पर अच्छी चर्चा हुई थी. उन्होंने कहा, ‘डीआरएस को स्पष्ट गलतियों को बदलने के लिये बनाया गया था. इसमें कोई भी बदलाव नहीं हुआ है. मुझे लगता है कि जब आप बार बार रीप्ले देखते हो तो आपकी सामान्य प्रतिक्रिया यही होती है कि हम क्या कर सकते हैं. इसमें साफ दिख रही गलती को बदल दिया जाए. हम ऐसी स्थिति में पहुंच चुके हैं जिसमें हम सही फैसले करने के लिये टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर रहे हैं लेकिन परफेक्शन (बिलकुल सही) के लिए प्रयास असंभव हो जाता है. हम अभी जहां पर हैं, वहां बहुत सहज हैं.’

 Follow Us : - Google News | Dailyhunt News | Facebook | Instagram | Twitter | Pinterest

Share it:

Sports

Top News

Trending

Post A Comment:

0 comments:

• अगर आप इस आर्टिकल के बारे में कुछ कहेंगे या कोई सवाल कमेंट में करेंगे तो हमें बहुत ख़ुशी होगी